Menu

Download जीवनमें क्या करे और क्या न करे ? जो में कर रहा हु वोह ठीक है ? – Deep Trivedi

Sticky

नमस्कार मित्रो,

चलिए आज में आपसे बोहत ही IMP subject पर बात करता हु | अक्सर हमें जीवन में कभी न कभी ऐसा एहसास होता ही है की जो मै कर रहा हु वोह ठीक है ? या फिर daily life में अक्सर हमारे साथ बूरा घटता रहता है …

और हम नाराज़ भी हो जाते है… वाकइ यह लाज़मी होता है और उस समय हम जो action लेते है कब कबार हमे उस पर शक होता है .. की जो मै कर रहा हु वह वाकई सही है ? होता है की नहीं ?

और अक्सर हम हमारे मित्रो, साथी, पिताजी या माताजी को पूछते रहते है … की क्या किया जाये ….

तब होता ऐसा है की सभी अपने अपने हिसाब से सुजाव देते है ..

 


और मै आपसे मेरे दिल की बात कहू तोह – हम इस समय Depression में चले जाते है … अक्सर अकेले रहने का Try करते है – सही कहा ना ?

तोह आज में आपसे इसके सटीक उपाय पर चर्चा करता हु …

देखिये किसी भी घटना में क्या करना या क्या ना करना यह IMP नहीं है …. पर आपकी चेतना जगी है या नही यह IMP है …. मुझे मालूम है चेतना में आप confuse हो चुके हो …

चलिये इसे समझते है  – चेतना जगाना  यानी अपने मनकी उच्चाई पाना

 


 

अब आप सोचते होंगे की मै यह क्या कह रहा हु … अक्सर देख लेना जो भी व्यक्ति मनसे निकली बात को Follow करता है – वोह जीवन मै कई गुना आगे निकल जाता है …

तोह यहां में आपसे यह ही कहना चाहता हु की सवाल क्या करना, क्या न करनेका है ही नहीं ….

सवाल यह है की आपकी चेतना जगी है या नहीं बस… अगर जगी है तो आप जो भी करेगे वोह ठीक ही होगा..और आपको automatically मालूम हो जाता है की क्या करना उचित है …और आपको कभी पछतावा नहीं होगा उसे करनेके बाद…..

 


समझे ?

चलिए मै आपको इसे और अच्छे तरीके से समजता हु –

छोटे बच्चे को देखा है आपने गौर से ? देखलेना वोह अगर आपको आपके गाल पर चाटा भी मारेंगे ना तोह भी आपको उसकी यह बात का बूरा नहीं लगेगा और उसकी जगह किसी अन्यने मारा  होता तोह आपके दिल की धड़कन बढ़नी सुरु हो जाती है …

I am The Mind - Deep Trivedi

Images Credit – pixabay

इसका राज़ अगर आप  नहीं समझे तो मै समझाता हु – यह जो छोटा बच्चा है उसकी चेतना जागी हुए है, अब वोह चाहे आपको चाटा मारे या फिर मिटटी से खेले, खुश ही रहेगा …क्योकि चेतना जागना यानि परमात्मा का किया हुआ करना यह समजे …..

अब इसमें करने ना करने का सवाल ही कहा पैदा होता है बताये …. सवाल एक ही है…. चेतना का बस….समझे ?

और इसका दुरसा  उदहारण चाहिए तोह एक बार कृष्णा के जीवन में झांककर देख लेना – उन्होंने तोह छल भी किया, कपट भी किया, अपनी माता-पिता को परेशान भी किया, 108 विवाह भी किये, संहार तोह ख़ुशी खुसी करते ….

I am The Mind Book - Deep Trivedi

Images Credit – pixabay

और अगर हम कृष्णा को देखे तोह वोह तोह भगवान बननेके लायक भी नहीं है …. अगर हम हमारे नज़रिए से देखे तोह…..लेकिन यहाँ सवाल सिर्फ चेतना का है…करने – न करने का है ही नहीं…यह बात अपने गले ऊतार लेना …

इसके पीछे का राज़ एक ही है … की उनकी चेतना जागी है … बस

और हां –

जिनकी भी चेतना जागी हुई होती है उनसे कभी भी गलत काम हो ही नहीं सकता – यह possible ही नहीं है ….

आप इसमें संदीप महेश्वरी का भी Example ले सकते है …. उनकी चेतना जाग चुकी है – अब वोह चाहे तोह भी, उनसे गलत काम हो नहीं सकता, सिर्फ और सिर्फ खुदका और अन्य लोगो का भला ही होगा – और वोह जो कुछ भी करेगा वोह ठीक ही होगा….

अब जैसे मेने कहा की सवाल क्या करना – न करनेका है ही नहीं ….

तोह हम आपनी चेतना कैसे बढ़ाये (मन की उच्चाई कैसे प्राप्त करे )? ताकि हम Daily life की प्रोब्लेम्स को आसानीसे हल करनेमे कामयाब हो जाये…..

 


तोह इसके मै 2 Solution आपसे शेयर करना चाहता हु जो मैंने अपने life में जाने है –

१) दीप त्रिवेदी द्वारा लिखित मै मन हूँ कीताब पढ़े | यह किताब में दीप त्रिवेदी ने reality के आधार पर –

  • मन क्या है ?
  • इसको फॉलो कैसे करे ?
  • मन को दबानेसे दुष्परिणाम ?
  • मन की शक्ति ?
  • मन के मालिक कैसे बने ?
  • और मन के बारेमे indetail चर्चा करते है

… Superb बुक… और हा यह किताब पढनेके बाद आप अपने और अन्य लोगोके मन को आसानी से जान सकते है, और हा – वोह क्या कर रहा है, उसके पीछे का कारण भी आप आसानी से पता लगा सकते है ..

२) और दीप त्रिवेदी के lecture सुनिए जो youtube पर Available है …. उन्होंने भगवदगीता पर भी lectures दिए है और कैसे हम गीता को हमारे life में अपनाकर जीवन आनंद, मस्ती से भरे इसको समजाते है …(उनकी youtube Channel अभी फॉलो करे – )

और गीता सुनतेही आपको कृष्णा के जीवन के सारे राज़ जाननेको मिल जायेगे जिसको आज तक नहीं कोई समज पाया….

 


बस इतना करलोगे तोह मुझे यकींन है की आपको जरूर पता चल जायेगा की क्या करना  ? और क्या ना करना ?

इसका जवाब आपके भितर से निकलेगा आपको किसी और को पूछना नहीं पड़ेगा – और जो भीतर से निकलता है वोह स्वयं इश्वर ही भेजता है उसमे कोई Error या Mistake की गुनजाइस नहीं होगी यह पक्का है ….

तोह बस अभी से बल्कि इसी वक्त दीप त्रिवेदी के Website, Youtube Channel पर विजिट करे, उन्होंने बोहत सारी किताबे भी लिखी है …. खास कर Parents यह किताब पढेगे तोह सायद वोह उनके बच्चे को सफल बनानेमे कामयाब हो जायगे …..

क्योकि दीप त्रिवेदी प्रकृति के उन रहष्यो की चर्चा करते है – जो १००% सही है जिसे कोई बदल नहीं सकता – हम जैसेही उसे Follow करते है तोह हमारा जीवन बेहतर होता चला जाता है….

चलिए धन्यवाद |  आशा करता हु की आपको यह Post उपयोगी सिद्ध हुई होगी ….बोहत बोहत सुक्रिया

Categories:   Books, IMP बाते, MIND, NATURE

Comments

  • Posted: May 13, 2019 14:54

    g

    Way cool! Some very valid points! I appreciate you penning this article and also the rest of the website is very good.
    • Posted: May 13, 2019 15:19

      Admin

      thanks alot
  • Posted: May 13, 2019 14:45

    g

    Hello to every one, it's actually a pleasant for me to pay a quick visit this web site, it consists of priceless Information.
    • Posted: May 13, 2019 15:19

      Admin

      oh..that's great....
  • Posted: May 13, 2019 13:42

    g

    This is a topic which is close to my heart... Best wishes! Where are your contact details though?
    • Posted: May 13, 2019 15:21

      Admin

      Contact : dkc0035@gmail.com
  • Posted: May 10, 2019 08:34

    how to download minecraft

    Hi! Someone in my Myspace group shared this site with us so I came to look it over. I'm definitely enjoying the information. I'm bookmarking and will be tweeting this to my followers! Fantastic blog and outstanding design.
    • Posted: May 10, 2019 08:57

      Admin

      thanks alot
  • Posted: May 4, 2019 11:15

    gamefly

    I am curious to find out what blog system you have been working with? I'm having some minor security problems with my latest blog and I would like to find something more safe. Do you have any solutions?
    • Posted: May 4, 2019 11:30

      Admin

      PLZ CONTACT ME - dkc0035@gmail.com
  • Posted: May 4, 2019 06:07

    gamefly

    Great delivery. Outstanding arguments. Keep up the good effort.
  • Posted: May 4, 2019 05:44

    gamefly free trial

    You are so interesting! I do not believe I've read through a single thing like that before. So good to discover another person with some original thoughts on this topic. Really.. thanks for starting this up. This web site is one thing that's needed on the internet, someone with some originality!
  • Posted: May 4, 2019 05:32

    gamefly free trial

    Hi there! Quick question that's entirely off topic. Do you know how to make your site mobile friendly? My web site looks weird when viewing from my iphone 4. I'm trying to find a theme or plugin that might be able to correct this problem. If you have any suggestions, please share. Appreciate it!
    • Posted: May 4, 2019 11:34

      Admin

      PLZ CONTACT - dkc0035@gmail.com